गुरुवार, 2 अप्रैल 2020

वरदान फाउंडेशन एनजीओ ने किया राशन वितरित

कोरोना वायरस के कारण मजदूरों पर आया संकट

news lockdown
neelam rawat rasan date hue

NEW DELHI कोरोना वायरस के कारण जहां एक और सारे देश में लाॅकडाउन की स्थिति बनी हुई है वहीं दूसरी और कुछ लोग ऐसे है जो इस लाॅकडाउन में भी लोगों की मदद करने के लिए आगे आ रहे है। 
ऐसी ही एक शख्सियत है नीलम रावत। दिल्ली के नरेला में वरदान फाउंडेशन एनजीओ की अध्यक्षा नीलम रावत काफी समय से लोगों की परेशानियों का निदान निकालने के लिए हर संभव प्रयास कर रहीं है। महिलाओं व बच्चों को ध्यान में रखते हुए यह एनजीओ विशेष रूप से कार्य करती है। इसी कडी में वरदान फाउंडेशन एनजीओ की अध्यक्षा नीलम रावत ने सोनीपत में लाॅकडाउन की वजह से भूखे परिवारों को खाने का सामान बांटा।
आपको बता दें कि कोरोना वायरस से पूरी दुनियां मौत के मुंह में खडी है। भारत में कोरोना वायरस के आने के कारण व लोगों की जान बचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पूरे देश में 21 दिन का लाॅकडाउन का ऐलान किया है जिसके कारण लोगों के सामने रोजी रोटी का सवाल खडा हो गया है।
 लोग घरों में बंद है जिसके कारण गरीब व मजदूर वर्ग के आगे रोजी रोटी का सवाल खडा हो गया है जिसके कारण लाखों की संख्या में मजदूरों ने शहरों से अपने गांव की और पलायन शुरू कर दिया है सरकार ने भी इन लोगों के लिए खाने व आने जाने की व्यवस्था की लेकिन कुछ एनजीओ व लोग भी इन लोगों की मदद के लिए आगे आए।
इसी कडी में नरेला की वरदान फाउंडेशन एनजीओ की अध्यक्षा नीलम रावत ने एनजीओ सदस्यों के साथ सोनीपत में मजदूरों व गरीबों को दाल चीनी, चावल, आलू आदि दिया।

क्या कहा नीलम रावत ने 



नीलम रावत ने बताया कि आज इस संकट की घडी में सभी को मिलकर कोरोना वायरस से लडना होगा। कोरोना वायरस को कोई भी सरकार या प्रशासन नहीं हरा सकता है। यह केवल जनता के सहयोग से ही संभव है। लेकिन हमें समझना होगा कि समाज में एक वर्ग ऐसा भी है जो पूरा दिन कमाता है और शाम को खाता है । लाॅकडाउन की वजह से इन लोगों के सामने रोजी रोटी का सवाल खडा हो गया है जो इस मुसीबत की घडी में लाॅकडाउन की उद्देश्य का खात्मा कर सकता है इस लिए हर किसी को इनकी मदद के लिए आना आना चाहिए। शहरों की चकाचैंध को बनाए रखने में इन लोगों का बहुत बडा योगदान है । इस समय आ गया है कि हमें इनके लिए कुछ करना चाहिए। नीलम रावत ने सभी को इस मुहिम में आगे आने का अनुरोध किया।

सरकार क्या कर रहीं हैं।


कोरोना वायरस के कारण लाॅकडाउन की वजह से लोग अपने घरों में बंद होने को मजबूर हो गए है जिसके कारण लोगों के सामने एक समस्यां खडी हो गई है लेकिन सरकार ने अपने स्तर पर कोशिश की है कि वह इन गरीब मजदूरों की मदद कर सकें। दिल्ली सरकार ने मजदूरों के लिए स्कूलों व रैनबसेरों में रहने और खाने की व्यवस्था की है जिसके कारण किसी को भी कोई परेशानी ना हों व लाॅकडाउन का सही से पालन हो सकें। लाॅकडाउन की सही से पालन ही कोरोना वायरस से होने वाली जान हानि को रोक सकता है।
इस अवसर पर अनोज कुमार, अनिल, पंकज, मनोज, आदि गणमान्य मौजूद रहें ।




जानिये कौन है नीलम रावत

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें